अगर मैं 1 महीने की ईएमआई नहीं दे पा रहा हूं तो क्या होगा? (शुल्क, प्रकार, ब्याज दर आदि)

इस लेख की रूपरेखा

अगर मैं 1 महीने की ईएमआई नहीं दे पा रहा हूं तो क्या होगा? किसी भी प्रकार की लोन (गोल्ड लोन, KCC लोन, होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन और क्रेडिट कार्ड) ईएमआई को समय से भुगतान नहीं करने पर बकाया राशि के ऊपर निम्न शुल्क लगाया जा सकता हैं जिसके बारे में और विस्तार से जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

इस लेख में आपको कुछ महत्वपूर्ण बैंक के बारे में भी बताया गया हैं जहां कुछ बैंक में बकाया राशि की emi नहीं चुकाने पर क्या होता है और कितना ब्याज और शुल्क लगता हैं?

अगर मैं 1 महीने की ईएमआई नहीं दे पा रहा हूं तो क्या होगा?

बैंक से लोन लेने के बाद समय से ईएमआई भुगतान नहीं करते हैं, तो ऐसे में आपको बैंक के तरफ से बार-बार कॉल करके बकाया राशि के बारे में बताया जाएगा। जब आप कॉल रीसीव नहीं करते हैं तो रिकवरी एजेंट को घर पर भेजा जाता हैं।

इसके बाद भी अगर आप लगातार 3 माह तक ईएमआई की भुगतान नहीं करते हैं, तो ऐसे में आपके लोन को NPA (Non Performing Assets) घोषित कर दीया जाता हैं और इसकी रिपोर्ट सीबील कंपनी को भेज दी जाती हैं जिसके कारण सीबील स्कोर प्रभावित होता हैं और आपका क्रेडिट हिस्ट्री भी खराब हो जाता हैं।

इन सब कार्यों के आपके बकाया राशि के ऊपर सरकारी बैंक या प्राइवेट बैंक के नियमों के मुताबिक अतिरिक्त ब्याज और शुल्क भी (लेट पेमेंट शुल्क, फाइनैन्स शुल्क आदि) लगाया जाता हैं। सभी लोन के लिए अलग-अलग प्रकार के शुल्क होते हैं।

बैंक से लोन लेने के बाद EMI नहीं चुकाने पर क्या होता है और कितना शुल्क लगता हैं

यहाँ आपको एसबीआई बैंक लोन के ऊपर ईएमआई का भुगतान नहीं चुकाने पर कितना शुल्क लगता हैं इसके बारे में बताया गया हैं।

SBI Bank Credit Card EMI Pay Nahi Karne Par Kitna Charge Hain

एसबीआई बैंक क्रेडिट कार्ड के जरिए अगर आप कोई खरीदारी करने के बाद बकाया ईएमआई समय से भुगतान नहीं करते हैं या emi default करते हैं तो बकाया राशि पर late payment charge लगता हैं, इसे हम Finance charge भी कहते हैं जो 3.50% प्रति माह (42% वार्षिक दर) होता हैं।

एसबीआई सिंपली क्लिक क्रेडिट कार्ड के फायदे

SBI Bank KCC Loan EMI Pay Nahi Karne Par Kitna Charge Hain

KCC (Kisan Credit Card) Loan प्राप्त करने के लिए किसान अपने जमीन को बैंक के पास गिरवी रखते हैं और उसके बदले लोन लेते हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड के लोन में 6 माह पर एक ईएमआई बनता हैं, मतलब अगर आपने 5 साल के लिए लोन लिए हैं तो आपका 5 वर्ष में 10 ईएमआई बनेगा।

इस लोन में अगर किसान अपना emi default करते हैं तो बकाया राशि पर पेनल्टी के साथ ब्याज दर शुल्क भी लगता हैं और साथ मैं बैंक अपने रिकवरी एजेंट को धारक के घर भेजते हैं बकाया लोन रिकवरी करने के लिए।

SBI Bank Gold Loan EMI Pay Nahi Karne Par Kitna Charge Hain

एसबीआई बैंक से गोल्ड लोन लेने के बाद ईएमआई डिफ़ॉल्ट करने पर बकाया राशि पर 2% प्रति माह Penal Interest (दंड के रूप में) अलग से लगता हैं।

इसके साथ जीतने समय के लिए आप गोल्ड लोन लेते हैं और समय पूरा होने के बाद आप अपने गोल्ड को वापस नहीं लेते हैं (बैंक आपसे संपर्क करके लोन की लिमिट पूरा होने के बारे में बताता हैं) तो बैंक ऐसी स्थिति में लोन पूरा होने के 30 दिन बाद बैंक आपसे 100 रु Safe Keeping Charge (सोना की अधिक समय निगरानी करने हेतु) लेती हैं।

एसबीआई बैंक कितने गोल्ड पर कितना लोन देती हैं?

आप जितना गोल्ड बैंक के पास गिरवी रखते हैं उसके पूरे कीमत की 75% का अमाउन्ट बैंक आपको लोन के रूप में देती हैं और इस प्रक्रिया को LTV (Loan to Value) भी बोला जाता हैं।

एसबीआई बैंक गोल्ड लोन का ब्याज दर कितना हैं?

एसबीआई बैंक गोल्ड लोन के लिए धारक से 8.70% से 9.75% प्रति वर्ष ब्याज लेती हैं इसके अलावा प्रोसेसिंग शुल्क भी लिया जाता हैं जिसे नीचे बताया गया हैं।

एसबीआई बैंक आपके गोल्ड लोन पर अलग-अलग प्रकार के ब्याज शुल्क लेती हैं –

  • ईएमआई के आधार पर गोल्ड लोन का ब्याज दर 9.80% प्रति वर्ष लगता हैं।
  • लिक्विड गोल्ड लोन (ओवर ड्राफ्ट में) का ब्याज दर 9.80% प्रति वर्ष लगता हैं।
  • 12 माह के लिए बुलेट रिपेमेंट गोल्ड लोन का ब्याज दर 9.05% लगता हैं।
  • 3 माह के लिए बुलेट रिपेमेंट गोल्ड लोन का ब्याज दर 8.70% लगता हैं।
  • 6 माह के लिए बुलेट रिपेमेंट गोल्ड लोन का ब्याज दर 8.80% लगता हैं।

एसबीआई बैंक आपके गोल्ड लोन पर निम्न तरीके से प्रोसेसिंग शुल्क निर्धारित करती हैं –

अगर आप 3 लाख रु से कम का एसबीआई से गोल्ड लोन लेते हैं, तो इसमें आपका कोई भी प्रोसेसिंग शुल्क (0 रु) नहीं लगता हैं लेकिन अगर आप 3 लाख रु से अधिक अमाउन्ट का एसबीआई से गोल्ड लोन लेते हैं तो यहाँ पर आपसे –

  • 3 माह के लिए बुलेट रि-पेमेंट गोल्ड लोन लेने पर 100 रु+GST प्रोसेसिंग शुल्क लिया जाता हैं।
  • 6 माह के लिए बुलेट रिपेमेंट गोल्ड लोन लेने पर 150 रु+GST प्रोसेसिंग शुल्क लिया जाता हैं।
  • 12 माह के लिए बुलेट रिपेमेंट गोल्ड लोन लेने पर 0.25% का लोन राशि देना होगा। यहाँ कम से कम 250 रु और अधिकतम 5000 रु+GST प्रोसेसिंग शुल्क लिया जाता हैं।

इसके अलावा अगर आप लिक्विड गोल्ड लोन (जो की ओवर ड्राफ्ट हैं) लेते हैं, तो इसमें प्रोसेसिंग शुल्क 0.25% लोन राशि का हैं (जो कम से कम 250 रु+GST) और अगर आप गोल्ड लोन ईएमआई के आधार पर लेते हैं तो इसमें आपका प्रोसेसिंग शुल्क 0.25% लोन राशि का हैं (जो कम से कम 250 रु+GST)।

स्वर्ण का मूल्यांकक करने के लिए कितना शुल्क लगता हैं?

एसबीआई बैंक गोल्ड लोन देने से पहले सोना की जांच करवाती हैं और इसके आधार पर आपकी गोल्ड की सही कीमत को निश्चित किया जाता हैं जिससे आपको लोन देने की राशि को निर्धारित किया जाता हैं।

यह शुल्क लोन लेने वाले धारक से लिया जाता हैं, जो 0.05% से लेकर 0.1% तक होता हैं (आसान भाषा में समझे तो बड़े मेट्रो शहर में लोन लेने पर 50 रु से 600 रु और छोटे शहर में लोन लेने पर 50 रु से 300 रु तक)।

SBI Bank Home Loan EMI Pay Nahi Karne Par Kitna Charge Lagta Hai

एसबीआई बैंक में सभी प्रकार के होम लोन के लिए ब्याज दर 8.50% से शुरू होता हैं लेकिन यह आपके सीबील स्कोर और मंथली सैलरी के अनुसार कम-ज्यादा हो सकता हैं।

यदि आपका सीबील स्कोर 800 से अधिक हैं तो ऐसे में आपसे 8.70% ब्याज लिया जाएगा। अगर आप होम लोन की ईएमआई समय से नहीं भरते हैं तो सबसे पहले बैंक आपको एक लीगल नोटिस जारी करती हैं।

इसके बाद भी लोन की भरपाई नहीं करने पर बैंक आपकी घर की नीलामी करती हैं जिसमें आपके बकाया राशि और पूरे ब्याज के साथ घर नीलामी करके वसूली जाती हैं और बाकी का पैसा जो बचता हैं उसे DD के रूप में धारक को वापस कर दिया जाता हैं।

एचडीएफसी होम लोन 2 करोड़ के लिए आवेदन कैसे करें जाने इसके बारे में। 

लेकिन जब आप बैंक से सेटलमेंट के लिए राजी होते हैं तो इस स्थिति में आपकी सीबील स्कोर पूरी तरह से प्रभावित (खतम) हो जाता हैं, और फिर बाद में आप किसी प्रकार का कोई लोन नहीं ले पाएंगे।

SBI Bank Car Loan EMI Pay Nahi Karne Par Kitna Charge Hain

एसबीआई बैंक से नया कार खरीदने के लिए कार लोन लेने पर 8.65% से 9.65% तक ब्याज लगता हैं।

Second Hend car loan के लिए और electric car loan के लिए 11.25% से 14.75% तक और 8.60% से 9.30% तक ब्याज दर ली जाती हैं।

अगर मैं 1 महीने की ईएमआई नहीं दे पा रहा हूं तो क्या होगा?यह ब्याज दर वार्षिक रूप से इतना लगता हैं लेकिन इसके साथ आपके सीबील स्कोर और समय के हिसाब से ब्याज दर निर्धारित की जाती हैं। कार के लिए बैंक से लॉन आप अधिकतम 7 वर्षों के लिए ले सकते हैं। 

  • 775 से अधिक सीबील स्कोर होने पर 3 से 5 वर्षों के लिए 8.65% ब्याज और 6 से 7 वर्षों के लिए 8.75% ब्याज लगता हैं।
  • 757 से 774 सीबील स्कोर होने पर 3 से 5 वर्षों के लिए 8.75% ब्याज और 6 से 7 वर्षों के लिए 8.85% ब्याज लगता हैं।
  • 721 से 756 सीबील स्कोर होने पर 3 से 5 वर्षों के लिए 9% ब्याज और 6 से 7 वर्षों के लिए 9.10% ब्याज लगता हैं।
  • 700 से 720 सीबील स्कोर होने पर 3 से 5 वर्षों के लिए 9.25% ब्याज और 6 से 7 वर्षों के लिए 9.35% ब्याज लगता हैं।
  • 650 से 699 सीबील स्कोर होने पर 3 से 5 वर्षों के लिए 9.55% ब्याज और 6 से 7 वर्षों के लिए 9.65% ब्याज लगता हैं।

इसके साथ अगर आप पहली बार कार लोन ले रहे है तो इस स्थिति में आपका सीबील स्कोर (-1) होता हैं और इसके मुताबिक आपका कार लोन का ब्याज 8.75% से 9.10% तक रहता हैं।

श्रीराम फाइनैन्स व्हीकल लोन

एसबीआई बैंक पर्सनल लोन की ईएमआई भुगतान नहीं करने पर कितना शुल्क हैं?

पर्सनल लोन में दो ईएमआई से ज्यादा Default करने पर आपका सीबील स्कोर पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं और बकाया राशि पर 2% प्रति माह Penal Interest (दंड के रूप में) के नाम से शुल्क लगाया जाता हैं।

सीबील स्कोर प्रभावित होने के कारण आप भविष्य में किसी प्रकार की कोई लोन नहीं ले पाएंगे।

अगर मैं ईएमआई का भुगतान नहीं करता तो क्या होगा

अगर आप ईएमआई 6 माह से 7 माह तक नहीं चुकाई हैं, तो ऐसे में आपका सीबील स्कोर ज्यादा प्रभावित होता हैं और आपके घर पर बैंक के तरफ से वसूली करने के लिए एजेंट को भी भेजा जाता हैं।

इसके साथ आपका ब्याज शुल्क भी अधिक हो जाएगा।

कोई भी बैंक अपने लोन को रिकवर करने के लिए कब सेटलमेंट करता हैं?

जब आप अपने लोन को NPA File होने के बाद भी नहीं भरते हैं और लोन को चुकाने में पूरी तरह से असमर्थ हैं, तो बैंक आपको सेटलमेंट का विकल्प देती हैं। सेटलमेंट अलग-अलग लोन में निम्न तरीके से होता हैं।

किसी भी बैंक में आपको दो तरह के लोन दिए जाते हैं –

  1. Secured Loan (सुरक्षित लोन)
  2. Unsecured Loan (असुरक्षित लोन)

1.) Secured Loan (सुरक्षित लोन) : इस तरह के लोन में बैंक सुरक्षित रहती हैं। इसमें धारक को Home Loan, Gold Loan, FD Loan और Car Loan दिए जाते हैं। इसके लिए आपको बैंक के पास कोई वस्तु या दस्तावेज को गिरवी रखना पड़ता हैं और जब आपका सेटलमेंट होता हैं तो गिरवी रखी गई वस्तु की नीलामी की जाती हैं।

नीलामी में आपके वस्तु को बकाया लोन राशि से अधिक कीमत पर बेचा जाता हैं और सभी बकाया राशि को काट कर बाकी के राशि धारक को दे दिए जाते हैं। सुरक्षित लोन में सेटलमेंट के समय किसी प्रकार की कोई छूट नहीं दी जाती हैं इसमें आपसे ब्याज के साथ पूरी लोन को रिकवर की जाती हैं। 

2.) Unsecured Loan (असुरक्षित लोन) : इस तरह के लोन में बैंक के पास कोई भी वस्तु या दस्तावेज गिरवी नहीं रखी गई होती हैं, जिससे बैंक को बाद में पैसा रिकवर करने में दिक्कत होती हैं इसलिए यह असुरक्षित लोन होता हैं।

इसमें (Personal Loan और Credit Card) लोन होते हैं जहां अगर आप लगातार 3 ईएमआई डिफ़ॉल्ट करते हैं तो आपके लोन पर NPA रसीद बना कर सीबील कंपनी को दे दिया जाता हैं।

जिसके कारण आपका सीबील स्कोर और क्रेडिट हिस्ट्री प्रभावित होता हैं और फिर बाद में कभी भी आप लोन नहीं ले पाएंगे।

इस तरह के लोन में सेटलमेंट के लिए बैंक को आप बकाया लोन से कम राशि भी दे सकते हैं इसमें बैंक चाहते हैं जितना हो सके लोन रिकवर कर ले।

ध्यान दे जब आप लोन को पूरा करने के लिए सेटलमेंट करते हैं तो आप बैंक से NOC (Non-objection Certificate) जरूर ले इससे यह साबित होता हैं की आपने अपने लोन पूरी तरह से बंद कर दी हैं बाद में बैंक यह नहीं कह पाएगी की आपकी कुछ लोन बकाया हैं।

धारक अपने लोन की ईएमआई को क्यों नहीं दे पाते हैं?

धारक जब भी लोन लेने जाते हैं तो वह चाहते हैं की मुझे ज्यादा से ज्यादा लोन मिल जाए फिर धारक अपने कमाई को और घर की खर्चे को देखे बिना ही अधिक लोन ले लेते हैं जिससे उनकी मंथली ईएमआई बहुत ज्यादा हो जाता हैं और बाद में ऐसी परिस्थिति उत्पन्न होती हैं जिससे धारक अपने खर्चे को पूरा करने के चक्कर में लोन की ईएमआई डिफ़ॉल्ट कर देते हैं।

जिससे धारक के बकाया ईएमआई पर ब्याज और शुल्क भी लगने लगता हैं और बाद में धारक के ऊपर यह लोन ज्यादा अमाउन्ट में हो जाता हैं। इसलिए जब आप लोन लेते हैं तो आप यह जरूर देख ले की आप कितना अमाउन्ट का मंथली ईएमआई बिना किसी परेशानी की भुगतान कर सकते हैं और उसके हिसाब से लोन के लिए आवेदन करें।


FAQs : अगर मैं 1 महीने की ईएमआई नहीं दे पा रहा हूं तो क्या होगा?

Q.1) गोल्ड लोन नहीं चुकाया तो क्या होता है?

जब आप गोल्ड लेकर बैंक जाते हैं, लोन लेने के लिए उस समय बैंक आपसे एक स्टैट्मन्ट लेती हैं अगर आप समय से लोन वापस नहीं किए तो गोल्ड को बेचा जा सकता हैं।

Q.2) लोन मिलने के बाद मिलने वाला स्लिप अगर खो जाएगा तो क्या होगा?

जब आपको बैंक के तरफ से गोल्ड लोन मिलता हैं उसके साथ एक स्लिप भी दी जाती हैं और अगर यह स्लिप आपसे खो जाता हैं तो आपको 500 रु का पेनल्टी शुल्क देना पड़ता हैं उसके बाद ही आपको सोना वापस दी जाती हैं।

Q.3) एसबीआई से गोल्ड लोन लेने पर क्या हमारा सोना सुरक्षित रहता हैं?

एसबीआई बैंक से सोना गिरवी रखकर लोन लेते हैं और जब तक आप अपना सोना वापस नहीं ले लेते हैं तब तक बैंक आपके सोने की पूरी तरह से ध्यान रखता हैं और साथ में बैंक आपके गोल्ड की अपने खर्चे से इन्श्योरेन्स भी करवा कर रखती हैं ताकि अगर किसी प्रकार की कोई प्रॉबलम होती हैं तो इन्श्योरेन्स के जरिए आपका पैसा लौटाया जा सके।

Q.4) एसबीआई बैंक में होम लोन के लिए आयु सीमा कितनी होती हैं?

SBI Bank home loan के लिए धारक की आयु सीमा 18 वर्ष से 70 वर्ष के बीच होनी चाहिए। होम लोन केवल 30 वर्षों के लिए दी जाती हैं।

Q.5) बैंक का लोन पूरा पेमेंट करने के बाद सीबील स्कोर पर बुरा प्रभाव क्यों पड़ता हैं?

जब भी आप अपने किसी भी लोन की पूरा भुगतान (Payment) कर देते हैं तो उसके बाद आप बैंक के तरफ NOC (No Objection Certificate) जरूर लें इससे यह पता चलता हैं की आपकी लोन पूरी तरह बंद हो चुका हैं।

Q.6) हाइपोथैकेशन का मतलब क्या होता है? 

जब आप किसी बैंक से अपने कार को गिरवी रखकर लोन लेते है तो बैंक आपको एक RC देती हैं जिसमें hypothication word लिखा होता हैं। इसका मतलब हैं, आपने अपने कार को गिरवी रखा हैं और जब आप लोन वापस कर देते और बैंक से NOC ले लेते हैं उस समय बैंक आपके RC से hypothication word हटा देती हैं और लोन को पूरी तरह से बंद कर दिया जाता हैं।

निष्कर्ष (Conclusion)

अगर मैं 1 महीने की ईएमआई नहीं दे पा रहा हूं तो क्या होगा? के इस लेख में आपको बताया गया हैं की अगर आप क्रेडिट कार्ड लोन, होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन, KCC लोन और गोल्ड लोन आदि जैसे लोन की emi नहीं चुकाने पर क्या होता है? और कितना ब्याज लगता हैं? के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई हैं।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ और ग्रुप में जरूर साझा करें। इसके अलावा अगर आपका कोई सवाल हैं तो नीचे कमेन्ट करके जरूर पूछे आपके सभी सवालों का उत्तर जल्द ही दिया जाएगा।

Manish Tiwari

मेरा नाम मनीष तिवारी हैं और मैं B.Com का छात्र हूं। मैं इसके साथ Money Finance Info ब्लॉग का फाउंडर भी हूँ। फाउंडर होने के साथ−साथ मैं अपने ब्लॉग पर लेखक के रूप में काम भी करता हूं जहां क्रेडिट कार्ड के बारे में सही और सटीक जानकारी प्रदान की जाती है।

Leave a Comment